1984 सज्जन कुमार सिख कत्लेआम के जुर्म में उम्रकैद #Rustamehind

1984 सज्जन कुमार सिख कत्लेआम के जुर्म में उम्रकैद

1984 सज्जन कुमार सिख कत्लेआम के जुर्म में उम्रकैद

#1984SajjanKumar, #lifeimprisonment, #Umarkaid,
1984 सज्जन कुमार सिख कत्लेआम के जुर्म में उम्रकैद #Rustamehind
1984 सिख कत्लेआम के जुर्म में सज्जन कातिल को उम्रकैद #Rustamehind

1984 Sajjan Katiyal has been sentenced to life imprisonment for the crimes of Sikh massacre,
Sajjan Kumar Delhi HC convicts Sajjan Kumar in 1984 Sikh riots,
Congress Leader Sajjan Kumar Gets life prison In 1984 Anti-Sikh Riots,
बेकसूर सिख समुदाय पर अत्याचार, बेकसूर अकाल तखत साहिब पर सेना द्वारा हमला करने के बाद इंदिरा गांधी की हत्या के बाद पुरे देश में कांग्रेसी नेताओं द्वारा बेकसूर निर्दोष सिखों को जिन्दा जलाया गया था, घर व्यापर लूट कर जला दिया गया था, बच्चियों और औरतों की इज्जत लूटी गयी थी, राजीव गांधी, सज्जन कुमार, जगदीश टाइटलर, अरुण गांधी, अर्जुन सिंह, एच के एल भगत, धर्म दास शास्त्री, अर्जुन सिंह, कमल नाथ, भजन लाल, सहित अनेक नेताओं ने सिख समुदाय के साथ हर प्रकार का नृशंश हत्याकांड, बलात्कार, लूटपाट के लिए उकसाया था, और निजी रूप से साथ दिया था, तत्कालीन सरकार, प्रशासन, पुलिस ने भी इस ऐतिहासिक जुल्म में साथ निभाया था, अमिताभ बच्चन फिल्म अभिनेता ने भी इस जुल्म को सही ठहराया था, उस जुल्म के बाद पंजाब में भी तत्कालीन मुख्य मंत्री बेअंत सिंह और पुलिस महानिदेशक के पी इस गिल ने बेकसूर युवा सिख बच्चों को घर से जबरदस्ती निकाल निकाल कर बड़ी ही दरिंदगी से मारा था, ३४ सालों से सिख समुदाय न्याय की मांग कर रहा था, ३४ साल बाद केवल एक अपराधी को दिल्ली उच्च न्यायालय ने पहली बार सजा सुनाई है, उस पर भी इस निर्लज्ज अपराधी अपराधी ने उच्चतमम न्यायालय में सजा के खिलाफ अर्जी लगा दी है, एक तरफ कमल नाथ को कंग्रेस पार्टी ने मध्य प्रदेश का मुख्य मंत्री बना दिया है, दुसरी तरफ जगदीश टाइटलर और अन्य अपराधी आज भी बेशर्मी से खुले आम घूम रहे हैं।
सजा के बाद सिख समुदाय का जो भरोसा न्याय पालिका से हैट गया था इस फैसले के बाद कुछ रहत मिली है, लेकिन अगर सज्जन कुमार चालाकी से न्याय पालिका को गुमराह करके बड़ी हो गया तो सिख समुदाय का भरोसा न्यायपालिका से हमेशा के लिए समेत हो जायेगा, इस लिए सज्जन कुमार को बिना समय गवाए तुरंत हिरासत में लेना चाहिए और अन्य अपराधियों को भी सख्त से सख्त सजा मिलनी चाहिए।

7Shares

285total visits,1visits today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Social media & sharing icons powered by UltimatelySocial